NEET 2024 परीक्षा में धांधली और अनियमितताओं को लेकर विद्यार्थियों और उनके अभिभावकों ने कई सवाल उठाए हैं। यहाँ हम इन सवालों को विस्तार से प्रस्तुत कर रहे हैं:

  1. रजिस्ट्रेशन विंडो 09 अप्रैल को दोबारा क्यों खुला?
  2. कितने छात्रों ने इस विंडो में रजिस्ट्रेशन करवाया?
  3. इनका NEET स्कोर क्या है? इनमें से किन छात्रों को ग्रेस मार्क्स मिले?
  4. जिन सेंटर्स पर टाइम लॉस हुआ, वहां के सभी छात्रों को ग्रेस मार्क्स दिए गए या केवल उन्हें दिया, जिन्होंने शिकायत की या कोर्ट में केस किया?
  5. पांच मई को कई राज्यों में पेपर लीक एवं चीटिंग की शिकायत मिली। NTA ने कितनी FIR दर्ज कराई?
  6. बिहार पुलिस एवं आर्थिक अपराध इकाई ने NTA से जांच में क्या सहयोग मांगा? NTA ने कैसे सहयोग किया? कौन से दस्तावेज इन एजेंसीज को उपलब्ध करवाए गए?
  7. टेलीग्राम पर नीट का पेपर उपलब्ध होने की सूचना मिलने पर NTA ने क्या एक्शन लिया? क्या साइबर क्राइम पुलिस में शिकायत दर्ज की गई?
  8. ग्रेस मार्क्स देने की अनुशंसा किस स्तर पर किस अधिकारी ने की?
  9. अधिकतम कितने ग्रेस मार्क्स दिए गए?
  10. ग्रेस मार्क्स के पहले किस स्कोर पर क्या रैंक थी? यह बताएं ताकि ग्रेस मार्क्स से रैंक पर क्या फर्क पड़ा, यह पता चले।
  11. अनफेयर मिन्स एवं ब्रीच ऑफ इंटीग्रिटी ऑफ एक्जाम में अंतर उदाहरण सहित बताएं। परीक्षा से एक दिन पूर्व पेपर का मिलना अनफेयर मिन्स है, अथवा ब्रीच ऑफ इंटीग्रिटी ऑफ एक्जाम?
  12. बिहार के जिस संगठित गैंग के पास पेपर मिला, उसने पेपर आगे कितने लोगों को भेजा, इसकी जांच कैसे की गई? गैंग के सदस्यों के बयान क्या थे? इस केस का अनुसंधान कहां तक पहुंचा? NTA ने इस केस की गहराई तक जाने के लिए क्या प्रयास किए? NTA के किस अधिकारी ने जांच की?
  13. गुजरात के गोधरा में अन्य प्रदेशों के छात्रों को सेंटर्स क्यों और कैसे आवंटित हुआ? रजिस्ट्रेशन फॉर्म में तो अपने गृह राज्य में ही सेंटर लेने का विकल्प था!
  14. 2024 के पेपर का डिफिकल्टी लेवल 2023 की तुलना में कैसा था?
  15. रिजल्ट की घोषणा के लिए मतगणना वाली चार जून की तारीख किसने चुनी? जबकि इसके लिए चौदह जून नियत तिथि थी?
  16. ग्रेस मार्क्स देने की बात रिजल्ट के साथ क्यों नहीं बताई गई? इसे इतना गोपनीय क्यों रखा? जब 718, 719 पर सवाल उठे, तब NTA ने 6 जून को प्रेस रिलीज में यह बात बताई। यदि 718, 719 का विवाद न होता, तो स्टूडेंट्स को ग्रेस मार्क्स की बात कैसे मालूम होती?
  17. ग्रेस मार्क्स के लिए जिस कोर्ट आर्डर को आधार बनाया गया है, उसमें स्पष्ट लिखा है कि इसे मेडिकल, इंजीनियरिंग में उपयोग नहीं किया जा सकता। फिर यह कैसे किया गया?
  18. NTA की प्रेस कॉन्फ्रेंस में बताया गया कि ग्रेस मार्क्स के लिए स्टूडेंट्स की स्पीड को आधार बनाया गया है। लेकिन OMR शीट भरने में स्पीड का पता कैसे लगा?
  19. ग्रेस मार्क्स घोटाले की जांच किसी बाहरी, स्वतंत्र एजेंसी से क्यों नहीं कराई? आंतरिक समिति अपने लोगों को नहीं बचाएगी, यह भरोसा कैसे किया जाए?
  20. एक ही सेंटर पर 8 टॉपर आने के पीछे क्या कारण है, इसकी जांच कब होगी?
  21. इस वर्ष 67 स्टूडेंट्स को 720 अंक मिले। क्या इनकी दुबारा परीक्षा लेकर यह सुनिश्चित किया जाएगा कि इसमें कोई घोटाला नहीं है?
Are you sure want to unlock this post?
Unlock left : 0
Are you sure want to cancel subscription?